श्वेता तिवारी ने बेटी पलक की ट्रोलिंग-बॉडी शेमिंग पर की बात, कहा- ‘वह मुझसे ज्यादा चालाक है’

Uncategorized

लोकप्रिय टेलीविजन अभिनेत्री श्वेता तिवारी (Shweta Tiwari) अभी भी मनोरंजन इंडस्ट्री में सबसे ग्लैमरस अभिनेत्रियों में से एक हैं। दो बच्चों की मां होने के बावजूद उन्होंने साबित कर दिया है कि फिटनेस को अपनी प्राथमिकता बनाना आपको अपने जीवन के दूसरे पड़ाव पर भी महत्वपूर्ण स्थान दिला सकता है। अभिनेत्री अभी भी काफी सुंदर दिखती हैं और अक्सर एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री से अनजान लोगों द्वारा उनकी बेटी पलक तिवारी की बहन के रूप में मानी जाती हैं। अभिनेत्री को एक बेटा रेयांश कोहली (अभिनव कोहली के साथ अपनी दूसरी शादी से) का भी आशीर्वाद प्राप्त है।बिंदास मां अपनी बेटी पलक तिवारी की तारीफ करने का कोई मौका नहीं छोड़तीं, जिन्होंने खुद को सफल तरीके से मनोरंजन इंडस्ट्री में पेश किया है। पलक लोकप्रिय पंजाबी गायक हार्डी संधू के गाने ‘बिजली-बिजली’ में दिखाई दी थीं और यह एक रिकॉर्डतोड़ चार्टबस्टर सॉन्ग साबित हुआ है।

ईटाइम्स’ के साथ बातचीत में श्वेता तिवारी ने अपनी बेटी पलक तिवारी को लगातार ऑनलाइन ट्रोल और बॉडी शेमिंग से जूझते हुए देखकर एक मां के रूप में अपने डर के बारे में बात की। इसी के बारे में बात करते हुए श्वेता ने उस समय को याद किया, जब वह मनोरंजन इंडस्ट्री में एक युवा अभिनेत्री थीं और साझा किया कि कैसे पलक की लड़ाई उनसे बिल्कुल अलग है। बिंदास मां ने अपनी बेटी की प्रशंसा की और स्वीकार किया कि वह उनसे कहीं ज्यादा होशियार हैं।

उन्होंने कहा, ”हमारा समय बहुत अलग था। हम पर सोशल मीडिया और ट्रोलिंग का दबाव नहीं था। आज की पीढ़ी को उन ट्रोल्स से निपटना है, जो हमारे समय में नहीं थे और अब हम उनसे सीख भी रहे हैं कि इन ट्रोल्स से कैसे निपटा जाए। हमारे लिए यह अधिक कठिन है, क्योंकि हमारी स्कूली शिक्षा कभी ऐसी नहीं रही है या हमें ट्रोल से निपटने के लिए प्रशिक्षित नहीं किया गया था। लेकिन मेरी बेटी या उसकी पीढ़ी, उनकी शुरुआत ट्रोल की इस दुनिया को संभालने से हुई है। वे इंडस्ट्री में अपनी यात्रा शुरू करते ही ट्रोल्स को हैंडल करना सीख जाते हैं। जब एक मां के रूप में कुछ प्रेशर फील होता है, तो मैं उसे संभाल लेती हूं, लेकिन वह इन चीजों को संभालने में ज्यादा समझदार होती है।

साक्षात्कार में आगे बढ़ते हुए श्वेता तिवारी ने अपनी बेटी पलक तिवारी की मनोरंजन इंडस्ट्री में सहायक निर्देशक के रूप में यात्रा के बारे में भी बात की। अपनी बेटी के विनम्र और जमीनी स्वभाव पर विचार करते हुए श्वेता ने कहा, ”इसीलिए जब उन्होंने शुरू किया, तो उन्होंने एक सहायक निर्देशक के रूप में अपना करियर शुरू किया। उनका पहला प्रोजेक्ट एक शैम्पू के लिए मेरे विज्ञापनों में से एक था। बाद में वह एक अभिनेत्री बन गईं, वह बहुत अच्छी और विनम्र लड़की हैं। वह हर चीज का अनुभव करना चाहती थीं, इसलिए वह हर चीज के फायदे और नुकसान ऑन और ऑफस्क्रीन दोनों तरह से समझती है। वह हर चीज को आसानी से संभाल लेती है, चाहे वह शूटिंग हो या कोई दूसरी चीज।”

एक बार ‘टाइम्स ऑफ इंडिया’ के साथ एक अन्य साक्षात्कार में श्वेता तिवारी ने अपनी बेटी पलक तिवारी की शादी के बारे में बात की थी और साझा किया था कि वह अब शादी में विश्वास नहीं करती हैं। इतना ही नहीं, बिंदास मम्मी ने ये भी माना था कि उन्होंने अपनी बेटी को शादी न करने की सलाह दी थी। अभिनेत्री के शब्दों में, ”मैं शादी में विश्वास नहीं करती। वास्तव में मैं अपनी बेटी को शादी न करने के लिए भी कहती हूं। यह उसका जीवन है और मैं उसे यह नहीं बताती कि इसे कैसे नेतृत्व करना है, लेकिन मैं चाहती हूं कि वह शादी करने से पहले अच्छी तरह सोच ले।

सिर्फ इसलिए कि आप एक रिश्ते में हैं, इसे शादी में बदलने की आवश्यकता नहीं है। जीवन में शादी करना बहुत जरूरी है, लेकिन शादी के बिना जिंदगी कैसे चलेगी, ये नहीं होना चाहिए।वर्क फ्रंट की बात करें, तो श्वेता तिवारी अगली बार आगामी टीवी शो ‘मैं हूं अपराजिता’ में दिखाई देंगी। फिलहाल, आपको इन मां-बेटी की जोड़ी कैसी लगती है? हमें कमेंट करके जरूर बताएं, साथ ही हमारे लिए कोई सलाह हो तो अवश्य दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *